भारतीय महिला हॉकी टीम की हार के बाद FIH ने मांगी माफी, टाइमिंग पर हुआ था विवाद; जानिए पूरा मामला

Image Source : TWITTER
महिला हॉकी टीम को सेमीफाइनल में ऑस्ट्रेलिया ने शूटआउट में 3-0 से हराया

Highlights

  • ऑस्ट्रेलिया ने पेनल्टी शूटआउट में भारत को 3-0 से दी थी मात
  • भारत के विए वंदना कटारिया ने गोल करके तय समय में स्कोर 1-1 से बराबर किया था
  • ऑस्ट्रेलिया के पहले प्रयास को रोकने पर खड़ा हुआ था टाइमिंग विवाद

CWG 2022: भारतीय महिला हॉकी टीम को बर्मिंघम कॉमनवेल्थ गेम्स (Commonwealth Games 2022) के सेमीफाइनल में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा। हालांकि, भारत ने दमदार प्रदर्शन करते हुए इस मैच को ड्रॉ करवा दिया था लेकिन पेनल्टी शूटआउट में कंगारू टीम को जीत मिली। लेकिन इस शूटआउट के दौरान एक विवाद भी खड़ा हुआ। यह विवाद था घड़ी की टाइमिंग से जुड़ा। अब अंतरराष्ट्रीय हॉकी महासंघ (FIH) ने भारतीय महिला टीम की ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सेमीफाइनल में हार के दौरान घड़ी से जुड़े विवाद पर माफी मांगी है।

एफआईएच ने अपने बयान में कहा, ‘‘बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों में ऑस्ट्रेलिया और भारत की महिला टीमों के बीच खेले गए सेमीफाइनल मैच के दौरान शूटआउट गलती से बहुत जल्दी शुरू हो गया था (तब घड़ी संचालित होने के लिए तैयार नहीं थी) जिसके लिए हम माफी मांगते हैं।’’ बयान में आगे कहा गया कि, ‘‘इस तरह की परिस्थिति में दोबारा पेनल्टी शूटआउट लेने की प्रक्रिया है और ऐसा किया भी गया। एफआईएच इस घटना की पूरी जांच करेगा ताकि भविष्य में इस तरह के मसलों से बचा जा सके।’’ 

CWG 2022: भारतीय महिला हॉकी टीम को सेमीफाइनल में मिली हार, पेनल्टी शूटआउट में खराब अंपायरिंग पर खड़ा हुआ विवाद

क्या था पूरा मामला?

दरअसल पेनल्टी शूटआउट के दौरान अपना पहला प्रयास चूकने वाली ऑस्ट्रेलिया की रोजी मेलोन को एक और मौका दिया गया। ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि स्कोरबोर्ड पर आठ सेकंड की उलटी गिनती शुरू ही नहीं हुई थी। मेलोन दूसरा मौका मिलने पर नहीं चूकीं और उन्होंने अपनी टीम को बढ़त दिला दी। यहीं से भारतीय टीम दबाव में आ गई। संभवत: यही एक कारण रहा कि भारतीय टीम की स्टार स्ट्राइकर एक बार भी अपना प्रयास सफल नहीं बना पाईं। भारत ने सेमीफाइनल का मुकाबला आखिर में शूटआउट में 0-3 से गंवाया। निर्धारित चार क्वार्टर के बाद दोनों टीमें 1-1 से बराबरी पर थीं। दर्शकों ने भी तकनीकी अधिकारियों के इस फैसले पर रोष जताया था। 

ब्रॉन्ज मेडल मैच में सामने होगी कीवी चुनौती

नल्टी शूटआउट में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 3-0 से हराकर स्वर्ण पदक की रेस से बाहर कर दिया। अब कांस्य पदक के लिए भारत का मुकाबला रविवार को न्यूजीलैंड से होगा। इससे पहले ग्रुप स्टेज में भारत का प्रदर्शन शानदार रहा था। टीम ने घाना को 5-0 से हराकर अभियान की शुरुआत की थी। इसके बाद हालांकि इंग्लैंड के खिलाफ टीम को 3-1 से हार मिली। लेकिन फिर वेल्स को वुमेन इन ब्लू ने 3-1 और कनाडा को 3-2 से हराकर पांचवीं बार कॉमनवेल्थ गेम्स के फाइनल में जगह बनाई थी। भारत ने अभी तक राष्ट्रमंडल खेलों में एक स्वर्ण (2002) और एक रजत पदक (2006) जीता है। 

और देखें
Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker